उन्नाव की तीसरी पीड़िता ने दिया बयान, चौकाने वाले हुए खुलासे।

उन्नाव की तीसरी पीड़िता ने दिया बयान, चौकाने वाले हुए खुलासे।
khabar khalifa

क्या कुसूर है हमारा ? कि हमें जला दिया जाता है , रैप कर दिया जाता हैं , जहर देकर मार दिया जाता है ,हड्डी पसलिया तोड़ दी जाती हैं, इतना ही नहीं शरीर की आंत तक निकाल दी जाती है,इतनी निर्ममता हम अबलाओं के साथ क्यों ? कब तक हम डर डर के जीते रहेंगे ? हमें भी तो जीने का अधिकार है ,तो आखिर कब सुरक्षित होंगी देश की बेटियाँ ? ये प्रश्न देश की हर लड़की के मन में उठ रहे हैं, लेकिन कोई नहीं जो इनके सवाले के जवाब दे सके और डर खत्म कर सके। निर्भया कांड हो ,या हैदराबाद की प्रियंका रेड्डी की हत्या ,या फिर हाथरस मामला ,इन्हें जब भी याद किया जाता है बस यह खौफनाक मंजर, अपराध और अपराधियों के प्रति जनआक्रोश में बदल देता है। इन मामलों के दोषियों को सजा तो मिली लेकिन शायद देश में छिपे अपराधियों को कानूनी सज़ा का कोई डर ही नहीं रहा। इसका सबसे बड़ा सबूत लगातार किशोरियों के साथ बढ़ता अपराध है

दोनों आरोपी गिरफ़्तार।

17 फरवरी 2021 को उन्नाव जिले में दलित परिवार की तीन लड़कियों के साथ घटी भयानक घटना के बाद पूरा देश ग़मगीन है, इतना ही नहीं हर माता -पिता के मन एक बार फिर अपनी बच्चियों को घर से बाहर निकालने से डरने लगा है। आपको बता दें की उन्नाव में हुए कांड में दो किशोरियों की लाश को पुलिस ने बेसुध हालत में खेत से बरामद की थी जबकि तीसरी पीड़िता को कानपुर के नर्सिंगहोम में इलाज़ चल रहा था। जाँच के बाद पुलिस ने दो आरोपियों विनय और सचिन को शुक्रवार को गिरफ़्तार किया था। दोनों आरोपी नाबालिक हैं।

आरोपी ने ऐसे दिया था वारदात को अंजाम।

लखनऊ रेंज की आईजी लक्ष्मी सिंह ने बताया कि विनय का कहना है कि वह एक लड़की से प्रेम करता था, उसने उसके सामने प्रस्ताव भी रखा था. लेकिन उसने ठुकरा दिया ,लड़की से मोबाइल नंबर भी मांगा था, लेकिन लड़की ने वह भी देने से मना कर दिया था ,इस बात से बेहद नाराज़ होकर उसने कीटनाशक पीला दिया। हालांकि वो सिर्फ एक ही लड़की को मारना चाहता था लेकिन अन्य दो लड़कियों ने भी नमकीन खाया और उसी कीटनाशक पानी की बोतल से पानी पिया। देखते ही देखते उन सब के मुँह से झाग निकलने लगा,जिसके बाद वे मौके से फ़रारा हो गए। आरोपी ने आगे यह भी बताया कि वह जिससे प्यार करता था वह अस्पताल में भर्ती है। किशोरी को मंगलवार को होश आने के बाद प्रशासनिक मजिस्ट्रेट की मौजूदगी में विवेचक एसओ असोहा ओमप्रकाश रजक ने 161 के तहत किशोरी के बयान दर्ज किए। एसपी के अनुसार पीड़िता ने वहीं बोला जो आरोपियाें ने पुलिस को बताया। 3 बजे खेत में घास लेने के कुछ देर बाद आरोपी विनय अपने साथी सचिन के साथ नमकीन लेकर पहुंचा और खिलाने के बाद उसे व अन्य किशोरियों को पानी पिला दिया।कुछ देर बाद सभी बेहोश हो गईं। किसी भी तरह की जबदस्ती से इंकार किया किशोरी ने इंकार किया है।

khabar khalifa

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *