लिंग जाँच करने वाले मोबाइल अल्ट्रासाउंड सेंटर पर प्रशासन की होगी कड़ी नज़र।

लिंग जाँच करने वाले मोबाइल अल्ट्रासाउंड सेंटर पर प्रशासन की होगी कड़ी नज़र।
khabar khalifa

उत्तरप्रदेश : दिल्ली एनसीआर में भ्रूण लिंग जांच पर रोक लगाने के लिए प्रशासन ने एक बार फिर कड़ी कार्यवाही के निर्देश दिए है। विशेषकर पश्चिमी उत्तर प्रदेश और हरियाणा के कई हिस्सों में यह अभियान चलाया जायेगा। गाजियाबाद में भी अब लिंग जांच करने वाले के खिलाफ प्रशासन ने सचल दस्ता तैनात कर कार्रवाई शुरू कर दी है। सचल दस्ता अब इन मोबाइल अल्ट्रासाउंड सेंटर पर नजर रखेगी, जिसमे एक मजिस्ट्रेट, दो डॉक्टर और एक पुलिस अधिकारी शामिल होंगे ,बता दें कि दिल्ली-एनसीआर में इस रैकेट के तार कहीं न कहीं उत्तर प्रदेश से जुड़े हुए बताए जाते हैं बीते कुछ दिनों में स्वास्थ्य विभाग की कई टीमें गाजियाबाद और पश्चिमी उत्तर प्रदेश के कई हिस्सों में छापामारी भी कर चुकी है।

लिंगानुपात 913 से 950 करने का लक्ष्य।

गाजियाबाद के डीएम विजय शंकर पांडेय के मुताबिक, जिले में लिंगानुपात 913 से 950 करने का लक्ष्य रखा गया है ,पिछले दिनों गाजियाबाद में हरियाणा के जींद, झज्जर, रोहतक, फरीदाबाद और सोनीपत के स्वास्थ्य अधिकारियों के साथ डीएम ने बैठक की थी जिसमें तय किया गया कि जो लोग मोबाइल वैन में अल्ट्रासाउंड से लिंग करने का जघंन्य अपराध कर रहे है उनके खिलाफ कड़ी कार्यवाही की जाएगी।

khabar khalifa

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *