कोरोना वॉरियर बनकर सामने आए आरके चत्री

कोरोना वॉरियर बनकर सामने आए आरके चत्री
khabar khalifa

लखनऊ। हजरतगंज स्थित शहर के प्रतिष्ठित क्राइस्ट चर्च कॉलेज के प्रधानाचार्य राकेश कुमार चत्री महामारी के इस दौर में शिक्षाविद की भूमिका के इतर गरीबों के मसीहा के रूप में सामने आए हैं। वह अलग-अलग संगठनों के माध्यम से लगातार सेवा कार्य में जुटे हुए हैं।

सबसे पहले उन्होंने लागू लॉक डाउन में फंसे गरीब और बेघर परिवारों को भोजन मुहैया कराने के लिए अपने खुद के वेतन से 50 हजार रुपये की मदद दी है। यह धनराशि उन्होंने उम्मीद संस्था को दी। इसके बाद कॉलेज स्टाफ ने आपसी सहयोग से एकत्रित दो लाख रुपये की धनराशि कोरोना संकट से पीड़ितों के सहायतार्थ इंडियन रेडक्रास सोसाइटी को दान दी है। मदद का उनका यह सिलसिला यहीं नहीं रुका। उनके प्रयासों से उत्तर प्रदेश मसीही एसोसिएशन (यूपीएमए) ने भी कोरोना महामारी से बचाव एवं पीड़ितों के इलाज के लिए पीएम केयर्स फंड में एक लाख रुपये की सहायता राशि दान की। यह धनराशि आरटीजीएस के माध्यम से पीएम केयर्स खाते में भेजी गई। वह यूपीएमए के सचिव हैं। उनके साथ अध्यक्ष बिशप आगस्टस एंथोनी व कोषाध्यक्ष मोरिस कुमार ने भी इस सहयोग में उनका पूरा साथ दिया।

चर्च ने बांटी खाद्य सामग्री

आरके चत्री ने लालबाग स्थित एपीफैनी चर्च के सहयोग से भी कारोना संकट में पीड़ितों की मदद में योगनदान दिया। चर्च की तरफ से शहर की मलिन बस्तियों में संक्रमण शोधित खाद्यान्न सामग्री व रसद का वितरण किया गया। चर्च के पादरी ईएफ बख्श ने भी इसमें पूरा योगदान दिया। उनके प्रयासों से तीन चक्रों में उन मलिन बस्तियों में जाकर खाद्यान्न व साबुन का वितरण किया गया, जहां किसी अन्य स्रोत से सहायता नहीं पहुंची थी। चर्च के माध्यम से अब तक तीन कुंतल नमक, सात कुंतल आटा, चार कुंतल दाल, छह कुंतल चावल, 300 पैकेट सब्जी मसाला, दो कुंतल घी, छह कुंतल आलू व 300 पैकेट रस्क आदि का वितरण तालकटोरा, राजाजीपुरम, चौक, चौपटिया व नक्खास क्षेत्र के लगभग 500 जरूरतमंद परिवारों में किया गया।

khabar khalifa
administrator

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *