फरवरी माना जाता है साल का सबसे छोटा महीना , लेकिन भरा है कई बड़ी घटनाओं से।

फरवरी माना जाता है साल का सबसे छोटा महीना , लेकिन भरा है कई बड़ी घटनाओं से।
khabar khalifa

12 महीनों में फरवरी माह, साल का सबसे छोटा महीना है,लेकिन यह महीना कई बड़ी घटनाओं के साथ इतिहास में दर्ज है। अगर हम 26 फरवरी की बात करें तो दो बरस पहले इसी दिन भारतीय वायु सेना के विमानों ने नियंत्रण रेखा को पार कर पाकिस्तान के बालाकोट में जैश-ए-मोहम्मद द्वारा चलाए जा रहे आतंकवादी शिविरों को निशाना बनाया था।वहीं अगर हम बात करें 14 फरवरी की तो पुलवामा में भारतीय सुरक्षाकर्मियों पर किए गए आत्मघाती बम हमले ने पूरे देश का सीना छलनी कर दिया था,जिसमें केन्द्रीय आरक्षी पुलिस बल के 46 जवान शहीद हुए थे, इस हमले की जिम्मेदारी बड़ी बेहयाई से पाकिस्तान के इस्लामी आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद ने ली। 26 फरवरी की तारीख एक अन्य बड़ी घटना की भी साक्षी रही है।दरअसल 26 फरवरी, 1857 को बंगाल में अंग्रेजों के खिलाफ विद्रोह की पहली चिंगारी भड़की थी, जो देखते देखते ज्वाला में बदल गई, इसे देश में अंग्रेजों के खिलाफ पहली जनक्रांति कहा जाता है।

26 फरवरी को हुईं ये अन्य बड़ी घटनाएं।

320 : चंद्रगुप्त प्रथम को पाटलीपुत्र का शासक बनाया गया।
1966 : महान स्वतंत्रता सेनानी और देशभक्त विनायक दामोदर सावरकर का निधन।
1975 : गुजरात के अहमदाबाद में देश का पहला पतंग संग्रहालय ‘शंकर केन्द्र’ स्थापित किया गया।


1976 : अमेरिका ने नेवादा परीक्षण स्थल पर परमाणु परीक्षण किया।
2011 : अल्जीरिया के राष्ट्रपति ने अरब देशों की बदलती राजनीतिक स्थिति के कारण देश में 19 साल पहले लगाए गए आपातकाल को आधिकारिक रूप से समाप्त किया।
2019 : भारतीय वायु सेना ने पुलवामा हमले का बदला लेने के लिए पाकिस्तान में घुसकर आतंकी शिविरों को निशाना बनाया।

khabar khalifa

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *