कोरोना और राजनीतिक पार्टियां दोनों हैं बंगाल का काल।

कोरोना और राजनीतिक पार्टियां दोनों हैं बंगाल का काल।
khabar khalifa

पश्चिम बंगाल में सियासी गहमागहमी और कोरोना वायरस दोनों बढ़चढ़ कर हिस्सा ले रहे हैं। जहां एक ओर अब तक कोरोना 10 हजार 378 लोगों की जान ले चुका हैं। वहीं दूसरी ओर चुनावी हिंसा लोगों को मौत के घाट उतार रही है। जानकारी के अनुसार कूचबिहार के सितलकुची में स्थानीय लोगों द्वारा हमला किए जाने के बाद सीआईएसएफ ने कथित तौर पर गोलियां चलाई जिसमें चार लोगों की मौत हो गई। ऐसा आरोप है कि स्थानीय लोगों ने सीआईएसएफ जवानों की राइफलें छीनने की कोशिश की। इस बीच वोट देने के लिए बूथ पर कतार में खड़े एक वोटर की कथित फायरिंग में मौत हो गई। मृतक की पहचान 18 वर्ष के आनंद बर्मन के रूप में की गई है। उसके परिजनों ने हत्या का आरोप तृणमूल कांग्रेस पर लगाया है। उनका कहना है कि आनंद भाजपा का समर्थक था, इसलिए उसे गोली मारी गई। 

हिंसा में चार की मौत चार घायल।

आपको बता दें कि इस घटना में चर लोगों की मौत और अन्य चार लोग घायल हुए। मृतकों में 18 वर्ष के आनंद बर्मन की मौत का जिम्मेदार भाजपा ने टीएमसी को ठहराया। भाजपा दावा है कि मृतक मतदान केंद्र पर पोलिंग एजेंट था। वहीं, पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री व टीएमसी प्रमुख ममता बनर्जी का कहना है कि युवक को सीआरपीएफ ने भाजपा के इशारे पर मारा है। इस पूरे मामले पर एक पुलिस अधिकारी ने कहा कि आनंद बर्मन को सितलकुची के पठानतुली इलाके में बूथ नंबर 85 के बाहर घसीटकर लाया गया और गोली मार दी गई। घटना के वक्त मतदान चल रहा था। इस घटना के बाद तृणमूल और भाजपा समर्थकों में झड़प शुरू हो गई और मतदान केंद्र के बाहर बम फेंके जाने के कारण कई लोग घायल हो गए। ऐसे में केंद्रीय बलों को स्थिति को नियंत्रण में करने के लिए लाठीचार्ज करना पड़ा। सीआईएसएफ जवानों के खिलाफ कोई कार्यवाही किए जाने की बात पर अधिकारी ने बताया कि ‘इसका फैसला निर्वाचन आयोग करेगा। हमारी रिपोर्ट के अनुसार सीआईएसएफ ने आत्म रक्षा में गोलियां चलाई।’

TMC और BJP दोनों एक दूसरे पर थोप रहे हिंसाओं आरोप।

गौरतलब है कि बंगाल में चौथे चरण की वोटिंग के दौरान कूचबिहार के अलावा कई जगहों से हिंसा की खबरे सामने आईं हैं। कहीं पर भाजपा कार्यकर्ता मारपीट का शिकार हुए हैं तो कहीं पर टीएमसी कार्यकर्ताओं पर हमले किए गए हैं। लोगों के घरों तक पर हमले हो रहे हैं। बीच चुनाव में हथियार व बम तक का इस्तेमाल किया जा रहा है। इन वारदातों को लेकर भाजपा और टीएमसी एक दूसरे पर आरोप लगाने से पीछे नहीं हट रहे हैं।

khabar khalifa

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *