चुनावी पार्टियों के बीच लगातार तोड़फोड़,उम्मीदवारों की गाड़ियों में मिले विस्फोटक पदार्थ।

चुनावी पार्टियों के बीच लगातार तोड़फोड़,उम्मीदवारों  की गाड़ियों में मिले विस्फोटक पदार्थ।
khabar khalifa

पश्चिम बंगाल में विधानसभा चुनाव 2021 की एक हर दिन एक नई तस्वीर नजर आ रही है। चुनाव के हर चरण से पहले या चुनाव के दौरान कई हिंसा की घटनाएं सामने आ रही है। यह चुनाव हिंसा का इतना भयानक रूप ले चूका है कि बेकसूरों को अपनी जान गवानी पद रही है जी हाँ कूचबिहार में हुई हिंसा में चार लोगों की मौत हो गई थी। अब रविवार को बीजेपी नेताओं के दो वाहनों और कांग्रेस के एक वाहनों के साथ तोड़फोड़ की घटना सामने आई है। हालांकि, इस घटना में कोई घायल नहीं हुआ है। वहीं, अलग-अलग घटनाओं में कुछ बम और बम बनाने की सामग्री भी बरामद हुई है।

यह लोकतंत्र नहीं है,हमें चुनाव प्रचार करने का अधिकार है।

मालदा जिले में, मनिकचक से कांग्रेस के उम्मीदवार, मोत्तकिन आलम और मालदा से कांग्रेस के लोकसभा सदस्य, जिला कांग्रेस अध्यक्ष अबू हशीम खान चौधरी ने आरोप लगाया कि टीएमसी समर्थकों ने उनके वाहनों के साथ तोड़फोड़ की है। यह घटना रविवार सुबह की है जब वे नघरिया गांव में आयोजित पार्टी के कार्यक्रम से लौट रहे थे। कांग्रेस नेतृत्व ने चुनाव आयोग में और अंग्रेजी बाजार पुलिस स्टेशन में शिकायत दर्ज कराई। वहीं, आलम ने कहा, हमने एक पार्टी समर्थक के घर पर एक छोटी सी बैठक की थी। बैठक से जब हम लौट रहे थे तभी लाठियों से लैस टीएमसी कार्यकर्ताओं ने हमारे वाहनों पर हमला बोल दिया। आलम ने आरोप लगाया कि भीड़ ने उनको वाहन से बाहर खींचने की भी कोशिश की थी, लेकिन जब वे बाहर नहीं निकले तो उन्होंने गाड़ी खिड़कियों को तोड़ दिया। गाड़ी पर हमले की घटनाओं को लेकर खान चौधरी ने कहा कि टीएमसी समर्थित गुंडों ने मुझ पर और आलम पर हमले किए हैं। यह लोकतंत्र नहीं है,हमें चुनाव प्रचार करने का अधिकार है।

टीएमसी ने कहा आरोप हैं बेबुनियाद।

आपको बता दें कि टीएमसी ने अपने उपर लगे हमले के आरोपों से इनकार किया है। मनिकचक से सत्तारूढ़ पार्टी के उम्मीदवार साबित्री मित्रा ने कहा कि घटना में टीएमसी को कोई समर्थक शामिल नहीं था। कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने कथित हमले के विरोध कई स्थानों पर प्रदर्शन भी किया। इंग्लिश बाजार पुलिस स्टेशन के एक अधिकारी ने नाम न छापने की शर्त पर बताया कि जांच शुरू हो गई है लेकिन रविवार रात तक कोई गिरफ्तारी नहीं हुई। वहीं, बीरभूम जिले में भाजपा के दो उम्मीदवारों ने भी आरोप लगाते हुए कहा कि चुनाव प्रचार के दौरान उनके वाहनों पर पथराव किया गया। बीरभूम के पारुई में भी पुलिस ने कहा कि उन्होंने दो ड्रमों में रखे कच्चे बम बरामद किए है। इसके अलावा उत्तरी 24 परगना के भाटापारा में भी पुलिस ने बम बनाने की सामग्री बरामद की है।

khabar khalifa

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *