BRITAIN में कंजरवेटिव पार्टी की बड़ी जीत

BRITAIN में कंजरवेटिव पार्टी की बड़ी जीत
khabar khalifa

नई दिल्ली: ब्रिटेन(BRITAIN) में शुक्रवार को आम चुनाव के नतीजे आ गए हैं। नतीजों में प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन की सत्तासीन कंजरवेटिव पार्टी ने बड़ी जीत हासिल की है। कंजरवेटिव पार्टी ने 362 सीटों पर जीत हासिल की है, तो वहीं विपक्ष की लेबर पार्टी 203 सीटों पर सिमट गई है। ब्रिटेन में बहुमत का आंकड़ा 326 है। विपक्षी लेबर पार्टी ने अपनी कई पारंपरिक सीटें गंवा दी हैं। ब्रिटेन के आम चुनाव में 1987 के बाद से कंजरवेटिव पार्टी की यह सबसे बड़ी जीत है और लेबर पार्टी के लिए 1935 के बाद से यह बुरी हार है। एग्जिट पोल में भी 650 सीटों वाली संसद में कंजरवेटिव पार्टी को 368, लेबर पार्टी को 191, लिबरल डेमोक्रेट्स को 13, एसएनपी को 55 सीटें मिलती दिखाई गई थीं।

Source: https://edition.cnn.com/2019/12/13/uk/uk-election-boris-johnson-win-ge19-intl-gbr/index.html

ब्रिटेन(BRITAIN) में यह पांच साल में तीसरा आम चुनाव

Conservative party wins in britain general elections

ब्रिटेन(BRITAIN) में यह पांच साल में तीसरा आम चुनाव हैं। बीते दो चुनाव 2015 और 2017 में हुए थे। वहीं 100 साल में यह पहली बार है, जब चुनाव दिसंबर में हो रहे हैं। कंजरवेटिव पार्टी और बोरिस जॉनसन का चुनाव में साफ संदेश है ब्रेग्जिट पूरा करना। इस चुनाव में हार के बाद लेबर पार्टी का नेतृत्व कर रहे जेरेमी कॉर्बिन ने इस्तीफा दे दिया है। उन्होंने नतीजों पर निराशा जताई है। जेरेमी कॉर्बिन ने कहा कि वे आगे किसी भी चुनाव में पार्टी का नेतृत्व नहीं करेंगे। कॉर्बिन ने हार के पीछे ब्रेक्जिट को वजह बताया। कहा कि सामाजिक न्याय का मुद्दा आगे भी जारी रहेगा। हम वापसी करेंगे। लेबर पार्टी का संदेश हमेशा मौजूद रहेगा। दरअसल, लेबर पार्टी ने वादा किया था कि अगर वह सत्ता में आती है, तो ब्रेग्जिट पर दोबारा जनमत संग्रह कराएगी। कॉर्बिन की पार्टी 2016 में हुए जनमत संग्रह को नाकाम बताती रही है।

लेबर पार्टी ने उठाया था जम्मू-कश्मीर का मुद्दा

Jammu- kashmir issue raised by Labour party in Britain elections

लेबर पार्टी ने सितंबर में पार्टी के वार्षिक सम्मेलन में जम्मू-कश्मीर को लेकर आपातकालीन प्रस्ताव पारित किया था। वार्षिक सम्मेलन में पार्टी नेता जेरेमी कॉर्बिन ने क्षेत्र में प्रवेश के लिए अंतरराष्ट्रीय पर्यवेक्षक और वहां के लोगों के लिए आत्मनिर्णय के अधिकार की मांग करने के लिए कहा। हालांकि ब्रिटेन सरकार का मानना है कि जम्मू-कश्मीर भारत और पाकिस्तान के बीच द्विपक्षीय मुद्दा है। बता दें कि इस चुनाव में माना जा रहा है कि कश्मीर का मुद्दा उठाने की वजह से भी लेबर पार्टी को नुकसान हुआ है। इस चुनाव में हॉरो ईस्ट सीट से चुनाव जीतने वाले कंजरवेटिव पार्टी के बॉब ब्लैकमैन ने माना है कि चुनाव में कश्मीर मुद्दे ने बड़ा रोल निभाया। उन्होंने कहा कि इस वजह से भारतीयों ने कंजरवेटिव पार्टी को वोट दिया। कश्मीर मामले की वजह से हम कम से कम 10 सीटों पर जीते हैं।

khabar khalifa
editor

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *