स्वास्थकर्मियों की बड़ी लापरवाही, मौत से जंग लड़ रहे 5 से 12 साल के बच्चे ।

स्वास्थकर्मियों की बड़ी लापरवाही, मौत से जंग लड़ रहे 5 से 12  साल के बच्चे ।
khabar khalifa

महाराष्ट्र :लापरवाही की आए दिन घटनाएं सामने आ रही हैं, आज एक और ऐसी ही घटना महाराष्ट्र में सामने आई है ,जिसको सुनकर लोग स्वास्थ विभाग पर उँगलियाँ उठा रहे है। महाराष्ट्र के यवतमाल जिले के एक गाँव में 12 बच्चों को पोलियो ड्राप के बदले हैंड सैनिटाइज़र की बूंदें पिलाई गई , इसके बाद बच्चों की तबियत ज्यादा बिगडी देख उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया है।जिला अधिकारी ने बताया तीन स्वास्थ्य कर्मियों कोे इस चूक के लिए कार्रवाई का सामना करना पड़ेगा। अधिकारी ने कहा कि यह घटना रविवार को कप्सिकोपरी गाँव के भानबोरा प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में घटी, जब 1-5 वर्ष की आयु के बच्चों के लिए राष्ट्रीय पल्स पोलियो टीकाकरण अभियान चल रहा था, जिसमें लापरवाही की वजह से 5 साल से कम उम्र के 12 बच्चों को पोलियो ड्रॉप्स के स्थान पर दो बूंदें सैनिटाइजर दी गईं।

तीन स्वास्थ कर्मचारी की रही लापरवाही।

उन्होंने कहा कि प्रारंभिक सूचना के मुताबिक, तीन स्वास्थ्य कर्मचारी- एक डॉक्टर, आंगनवाड़ी कार्यकर्ता और एक आशा स्वयंसेवक घटना के समय पीएचसी में मौजूद थे,पांचाल ने कहा, “एक जांच चल रही है और सभी तीन स्वास्थ्य कर्मियों को निलंबित करने के आदेश जारी किए जाएंगे।”इस बीच, एक अन्य अधिकारी ने कहा कि घटना तब सामने आई जब गांव के सरपंच ने ड्रॉप्स की जांच की और पाया कि ये हाथ धोने वाला हैंड सेनेटाइजर है, न कि पोलियो खुराक।

khabar khalifa

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *