Amit Shah की रैली में सीएए का विरोध कर रहे युवक की पिटाई

Amit Shah की रैली में सीएए का विरोध कर रहे युवक की पिटाई
khabar khalifa

नई दिल्ली: गृहमंत्री अमित शाह(Amit Shah) की रैली में युवक को नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ आवाज उठाना भारी पड़ गया। दरअसल बीते रविवार को दिल्ली के बाबरपुर इलाके में अमित शाह(Amit Shah) की एक रैली आयोजित की गई थी। मंच से शाह रैली को संबोधित कर रहे थे की उसी दौरान एक नौजवान ने सीएए के खिलाफ अचानक नारे लगाने शुरू कर दिये। इस दौरान अमित शाह(Amit Shah) ने कहा अरे यार ले लो इसको, सिक्यूरिटी वाले ले जाओ इसको उस लड़के को जरा सलामत ले जाएं आप जल्दी बाहर ले जाओ उसको।’ खबर के अनुसार वही युवक का कहना है कि ‘उस दिन नारे लगाने के तुरंत बाद वहां मौजूद दर्शकों ने मुझे पीछे से घसीट कर जमीन पर गिरा दिया उनमें से कुछ लोगों ने मुझे कुर्सी से पीटा।’

युवक का यह भी आऱोप है कि पुलिस ने उससे जबरन यह लिखवाया कि वो दिमागी तौर अस्थिर है यानी पागल है। इस दौरान हरजीत सिंह को चेहरे, पीठ और टांग पर चोट आई है। खबरों के अनुसार बता दें कि युवक नाम हरजीत सिंह है और वह दिल्ली यूनिवर्सिटी में बीए सेकेंड ईयर पड़ता है। हरजीत का कहना है कि वो भगत सिंह के आदर्शों पर चलते हैं और देश में सभी को अपनी बात रखने का पूरा हक है। हरजीत ने कहा भीड़ के द्वारा पीटे जाने के बाद पुलिस उन्हें उठा कर थाने ले गई और बिना किसी अपराध के लॉक-अप में बंद कर दिया।

पुलिस वालों ने उनसे कहा कि अगर उन्होंने कागज पर ‘मैं पागल हूं’ नहीं लिखा तो उन्हें लॉक-अप से बाहर नहीं निकाला जाएगा। हरजीत सिंह का यह भी आऱोप है कि चोट और दर्द की शिकायत करने के बाद भी पुलिस उन्हें अस्पताल नहीं लेकर गई। हालांकि इस पूरे मामले पर डीसीपी वेद प्रकाश सूर्या ने हरजीत सिंह के सभी आरोपों से इनकार किया है। डीसीपी का कहना है कि थाने में हरजीत सिंह से कुछ भी जबरदस्ती नहीं लिखवाया गया था। डीसीपी वेद प्रकाश ने कहा कि ‘हम पहले उन्हें रैली से निकाल कर अस्पताल ले गए। उनके बारे में थोड़ी-बहुत जांच-पड़ताल करने के बाद हमने उन्हें उनके माता-पिता के हवाले कर दिया।’

khabar khalifa
editor

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *