delhi riots को लेकर गृहमंत्री ने की मीटिंग।

delhi riots को लेकर गृहमंत्री ने की मीटिंग।
khabar khalifa

Delhi : पिछले तीन दिनों से देश की राजधानी दिल्ली के उत्तर पूर्वीय इलाकों चल रही हिंसा(delhi riots) और अराजकता को देखते हुए देश के गृहमंत्री अमित शाह ने मंगलवार शाम एक तत्कालीन बैठक बुलाई। बैठक गृहमंत्री अमित शाह और दिल्ली के उपराज्यपाल अनिल बैजल के साथ मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल , दिल्ली के पुलिस आयुक्त अमूल्य पटनायक और कांग्रेस नेता सुभाष चोपड़ा भी मौजूद रहे। इस बैठक में शांति बहाल करने के उपायों पर चर्चा हुई मीटिंग में दिल्ली में जारी हिंसा (Delhi Riots) को रोकने और कानून व्यवस्था बहाल करने के लिए कई एहम फैसले लिए गए।

कई एहम फैसले लिए गए

Major Decisions Taken to curb delhi riots
Major Decisions Taken to curb delhi riots

सरकार द्वारा पुलिस को दंगाइयों (delhi riots) से सख्ती से निपटने के आदेश दिए गए हैं। पुरे उत्तर-पूर्वीय दिल्ली में अगले एक महीने तक के लिए धरा 144 लगा दी गई है। आपको बता दें धरा 144 के तहत एक जगह पर चार से ज़्यादा लोगों के एकत्रित होने पर पाबंदी है। दिल्ली पुलिस को उपद्रवियों को देखते ही गोली मारने के आदेश हैं। वहीँ और हिंसा भड़काने के फैलाई जा रहीं अफवाहों पर भी नियंत्रण कसने की रणनीति बनायी गयी। इलाके में स्तिथि पर जल्द काबू पाने के लिए अर्द्धसेना बालों की भी तैनाती कर दी गयी है।

केजरीवाल ने कहा सकारात्मक रही मीटिंग

Everything was Positive In meeting- Arvind Kejriwal
Everything was Positive In meeting- Arvind Kejriwal

बैठक से निकलने के बाद दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने मीडिया से बात करते हुए बताया “हर कोई चाहता है कि हिंसा(delhi riots) को रोका जाए। गृहमंत्री ने आज बैठक बुलाई थी, यह सकारात्मक था”इस बैठक में यह निर्णय लिया गया कि सभी राजनीतिक दल यह सुनिश्चित करेंगे कि हमारे शहर में शांति बहाल हो।’केजरीवाल ने सभी दिल्ली वासियों से शांति और सैय्यम बनाये रखने की अपील करते हुए आश्वासन दिया कि सरकार और पुलिस जल्द ही स्तिथि पर काबू पा लेगी।

अजीत डोबाल को मिली हिंसा(delhi riots) रोकने की ज़िम्मेदारी

Ajit Doval Will curb delhi riots
Ajit Doval Will curb delhi riots

दिल्ली में नागरिकता संशोधन कानून को लेकर फैली हिंसा (delhi riots) को रोकने की जिम्मेदारी राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजित डोभाल को दी गई है। वह प्रधानमंत्री तथा केंद्रीय मंत्रिमंडल को हालात के बारे में ब्रीफ करेंगे। अजित डोभाल ने मीडिया से बात करते हुए कहा, “मैं आश्वासन देता हूं कि कानून का पालन करने वाले किसी भी नागरिक को कोई भी किसी भी तरह की हानि नहीं पहुंचा पाएगा पर्याप्त बल तैनात है, किसी को डरने की ज़रूरत नहीं है लोगों को वर्दीधारियों पर भरोसा करना होगा”इसके साथ ही उन्होंने प्रभावित इलाकों का दौरा भी किया।

khabar khalifa
administrator

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *