America ने पाकिस्तान को दी हिदायत, आतंक पर कसो शिकंजा।

America ने पाकिस्तान को दी हिदायत, आतंक पर कसो शिकंजा।
khabar khalifa

International: भारत की अपनी यात्रा से पहले, अमेरिकी(America) राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने भारत और पाकिस्तान के बीच तनाव को कम करना का प्रयास शुरू कर दिया है।शुक्रवार को व्हाइट हाउस ने जोर देकर कहा कि दोनों पड़ोसी (भारत और पाकिस्तान) के बीच कोई भी उत्पादक डायलॉग नहीं हो सकता है जबतक कि पाकिस्तान चरमपंथियों और आतंकवादियों के खिलाफ अपनी जमीन पर कार्यवाई और उनके खिलाफ शिकंजा न कस दे।

जम्मू-कश्मीर का विशेष दर्जा ख़त्म करने के बाद बड़ा विवाद

America again offers to interfere in Indo-pak relations
America again offers to interfere in Indo-pak relations

आपको बता दें कि पिछले साल 5 अगस्त को जम्मू-कश्मीर के विशेष राज्य का दर्जे को समाप्त करने के बाद भारत और पाकिस्तान के बीच तनाव बढ़ गया था।भारत के फैसले पर पाकिस्तान ने तीखी प्रतिक्रियाएँ दी थीं। जिसने पाकिस्तान और भारत के बीच राजनयिक संबंधों में खटास पैदा कर दी थी और पाकिस्तान के भारत में दूत को भी वापस बुला लिया था। ट्रंप प्रशासन के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि ‘मुझे लगता है कि आप राष्ट्रपति से जो सुनेंगे, वह भारत और पाकिस्तान के बीच तनाव को कम करने के लिए दोनों देशों को एक-दूसरे के साथ द्विपक्षीय वार्ता में शामिल होने के लिए प्रोत्साहित करना चाहते है।

अमेरिका(America) पहले भी कर चुका हैं मध्यस्ता की पेशकश

America again offers to interfere in Indo-pak relations
America again offers to interfere in Indo-pak relations

यह ऐसा पहला मौका नहीं है जब अमेरिका(America) भारत और पाक के दरमियान संबंधों को सुधरने का प्रयास कर रहा है इससे पहले भी पिछले महीने भारत और पाकिस्तान के बीच विवाद को सुलझाने में मदद करने की पेशकश करते हुए कहा था कि अमेरिका(America), कश्मीर पर दोनों देशों के बीच हुए घटनाक्रम को बहुत करीब से देख रहा था। ट्रंप ने पिछले दिनों कश्मीर मुद्दे पर मध्यस्थता करने की पेशकश की थी। परन्तु भारत ने इस मामले में किसी भी प्रकार के हस्तक्षेप को पसंद नहीं किया था। व्हाइट हाउस के एक अधिकारी का कहना है कि, ‘हम दोनों देशों के बीच किसी भी सफल वार्ता के मूल आधार पर अपना विश्वास जारी रखना चाहते है। लेकिन यह वार्ता पाकिस्तान द्वारा अपने क्षेत्र में आतंकवादियों और चरमपंथियों पर नकेल कसने के प्रयासों पर आधारित है।’

khabar khalifa
editor

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *