Primary Menu

Primary Menu

May 20, 2019
Time + Temperature Lucknow 19:27 PM +22°C

बाहुबली सांसद धनंजय सिंह का पीएम मोदी को सन्देश, वोट बैंक के चलते देश के सैनिक के साथ हो रहा अन्याय

Dhannjay Singh

मित्रों विगत दिनों मैंने आप सभी से एस एस बी के बहादुर जवान दीपक कुमार जी के साथ पश्चिम बंगाल सरकार व केन्द्र सरकार की आपसी राजनीतिक नूराकुश्ती के कारण की जा रही गैरसंवैधानिक कार्यवाही के सम्बन्ध में परिचर्चा की थी किसी भी सैनिक के विरुद्ध यदि कोई कार्यवाई करनी होती है तो उसके लिए सेना का आंतरिक तंत्र ही समर्थ होता है और यही विधि सम्मत है। किसी भी सैनिक के विरुद्ध किसी राज्य की पुलिस कैसे कार्यवाई कर सकती है जबकि यह सेना की आधिकारिक कार्यवाई थी और वाद व्यक्ति विशेष के विरुद्ध दर्ज किया गया है। मेरा देश के माननीय प्रधानमंत्री जी से कहना है कि सैनिकों के सम्मान के प्रति उनके द्वारा प्रदर्शित की जाने वाली प्रतिबद्धता अब कहाँ चली गयी है जबकि एक अनुशासित सैनिक के विरुद्ध गैर अनुशासित पोलिस कार्यवाई कर रही है।

मामले को SC में देकर दीपक कुमार को दिलाए न्याय  

केंद्र सरकार से मेरी मांग है कि गृहमंत्रालय को इस प्रकरण में सीधे दखल देकर इसे पश्चिम बंगाल पुलिस से सेना को स्थानांतरित करवा देना चाहिए। यह कार्यवाही हमारे सैन्यबलों के बहादुर जवानों के मनोबल पर विपरीत प्रभाव डालेगी और यह स्थिति राष्ट्र के हित में कदापि नहीं होगी। अतः मेरा आप सभी से आग्रह है कि इस विषय पर अधिक से अधिक मुखर हो लोगों को जाग्रत करें और केन्द्र सरकार तक प्रभावी ढंग से जनभावना को पहुँचायें।मैं व्यक्तिगत स्तर पर इस विषय को लेकर दोनों सरकारों व अधिकार प्राप्त लोगों से निरंतर संवाद कर रहा हूँ। आईये हम सब मिलकर बहादुर जवान दीपक कुमार के लिए न्याय व सैन्य बलों के मनोबल को बढ़ाने के लिए एक कदम बढ़ायें…

मेरे प्यारे देश वासियों किसी भी राष्ट्र की अस्मिता,अस्तित्व और आभामंडल उसके सैनिकों के पराक्रम के कारण होता है। सैनिक जो राष्ट्रदेवी की सुरक्षा के लिए न्यौछावर होने को सदैव आतुर रहता है उसके त्याग और बलिदान के सम्मुख प्रत्येक देशवासी सदैव नतमस्तक रहता है किन्तु दुर्भाग्य से कुछ राजनीतिक दल अपनी तुच्छ सत्तालोलुपता के कारण सैनिकों के सम्मान का संस्कार भूल चुके हैं।

घिनौनी राजनीति के चलते सैनिकों के सम्मान से हो रहा खिलवाड़

मित्रों जनपद जौनपुर निवासी लाल दीपक कुमार सिंह एस एस बी कमान्डेंट के रूप में पश्चिम बंगाल में माँ भारती की सेवा में तैनात है और राष्ट्र की सुरक्षा की प्रतिबद्धता के अनुपालन में उसने एक अवांछित तत्व की राष्ट्रद्रोही गतिविधि के चलते उसे मौत की नींद सुला दी। उक्त घटना के लिए दीपक कुमार को मां भारती की सुरक्षा के लिए सम्मान मिलना था किन्तु सम्मान के स्थान पर केंद्र व राज्य सरकार के राजनैतिक विवाद में देश के एक वफादार सैनिक पर एक देशद्रोही की हत्या के लिए पश्चिम बंगाल सरकार ने हत्या की धाराओं में मुकदमा दर्ज किया है।यह घटना देश के सैनिकों का मनोबल कमजोर करेगी अतः मेरी केन्द्र सरकार से मांग है कि इस प्रकरण में तत्काल प्रभाव से हस्तक्षेप कर दीपक कुमार सिंह को न्याय दिलायें।दीपक कुमार के साथ सम्पूर्ण राष्ट्र खड़ा है वोट बैंक की राजनीति के लिए सैनिकों के सम्मान से खिलवाड़ की छूट किसी को भी नहीं हो सकती। आप सभी से मेरी अपील है कि दीपक कुमार को न्याय मिलने तक प्रत्येक मंच से अपना विरोध अवश्य दर्ज करायें, और भारतीय सैनिको के साथ हो रहे दुराचार को खत्म करने में सहयोग करे।

ACCIDENT

पाँच दोस्तों ने निभाई दोस्ती,जिये भी साथ और मारे भी साथ ही

बीते शुक्रवार देर रात महेंद्रगढ़ के गांव...

Leave a Reply

en_USEnglish
en_USEnglish