कोटा(Kota) के अस्पताल में एक महीने में 100 बच्चों की मौत

कोटा(Kota) के अस्पताल में एक महीने में 100 बच्चों की मौत
khabar khalifa

जयपुर: दो दिन में 9 बच्चों की मौत के साथ कोटा(Kota) के जेके लोन अस्पताल में दिसंबर महीने में मरने वाले बच्चों की संख्या बढ़कर 100 हो गई है. बच्चों की मौत पर राजनीति शुरू हो गई है. विपक्षी दल बीजेपी ने राजस्थान सरकार और कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी पर हमला बोला है. बीजेपी के आईटी सेल के हेड अमित मालवीय ने कहा कि एक महीने में 100 बच्चों की मौत इतनी मामूली बात नहीं कि मीडिया आंखें मूंद ले. इधर, बीएसपी चीफ मायावती ने भी गहलोत सरकार और प्रियंका गांधी पर निशाना साधा है. उधर, राज्य सरकार ने इन मौतों पर सफाई दी है. राज्य के स्वास्थ्य मंत्री रघु शर्मा ने कहा कि कई बच्चों को काफी गंभीर स्थिति में लाया गया था.

दिसंबर 2018 में इसी अस्पताल में हुई थी 77 बच्चों की मौत

100 Infants die in Kota's Hosapital
100 Infants die in Kota’s Hosapital

अस्पताल प्रशासन ने बताया कि दिसंबर 2018 में इसी अस्पताल में 77 बच्चों की मौत हो गई थी. अस्पताल के सुपिरिंटेंडेंट डॉ. सुरेश दुलारा ने बताया कि 30 दिसंबर को 4 बच्चों और 31 दिसंबर को 5 बच्चों की मौत हो गई. उन्होंने इसके पीछे वजह बताते हुए कहा कि सभी की मौत जन्म से कम वजन के चलते हुई है. उधर, इतनी अधिक संख्या में बच्चों की मौत पर बीजेपी ने भी प्रदेश की गहलोत सरकार के खिलाफ प्रदर्शन करना शुरू कर दिया है.

कोटा(Kota) इतनी दूर भी नहीं सोनिया और राहुल जा न सके- अमित मालवीय

100 infant dies in Kota's Hospital
100 infant dies in Kota’s Hospital

बीजेपी के आईटी सेल के हेड अमित मालवीय ने अपने ट्विटर हैंडल से लिखा, ‘एक महीने में 100 नवजात शिशुओं की मौत हो जाती है, और राजस्थान के मुख्यमंत्री से कोई सवाल नहीं पूछे जाते. कोटा(Kota) इतनी भी दूर नहीं की सोनिया और राहुल गांधी वहां जा ना सकें और यह घटना इतनी भी मामूली नहीं की मीडिया कांग्रेस सरकार की इस लापरवाही पर आंख मूंद ले.’

khabar khalifa
editor

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *