वेब सीरीज मिर्जापुर के निर्माताओं पर ‘छवि’ खराब करने पर,आईपीसी की धाराओं के तहत एफआइआर हुई दर्ज।

वेब सीरीज मिर्जापुर के निर्माताओं पर ‘छवि’ खराब करने पर,आईपीसी की धाराओं के तहत  एफआइआर हुई दर्ज।
khabar khalifa

15 जनवरी को अमेजॉन प्राइम वीडियो पर रिलीज हुई वेब सीरीज तांडव को लेकर बवाल मचा ही हुआ है। तांडव पर धार्मिक भावनाएं आहत करने का आरोप है। इस मामले की गर्माहट अभी शांत नहीं हुई थी की इस बीच एक और वेब सीरीज मिर्जापुर विवादों में घिर गई है। पिछले साल रिलीज हुई मिर्जापुर 2 को लेकर अब मुकदमा दर्ज किया गया है।

वेब सीरीज मिर्जापुर के निर्माताओं पर 'छवि' खराब करने पर,आईपीसी की धाराओं के तहत  एफआइआर हुई दर्ज।

अरविंद चतुर्वेदी ने दर्ज कराई एफआईआर

मिर्जापुर के निर्माता रितेश सिधवानी, फरहान अख्तर और भौमिक गोंदालिया के खिलाफ आईपीसी की धारा 295 ए (जानबूझकर और दुर्भावनापूर्ण कृत्य, अपने धर्म या धार्मिक विश्वासों का अपमान करके किसी भी वर्ग की धार्मिक भावनाओं को अपमानित करने के उद्देश्य से), 504 (जानबूझकर अपमान करने के इरादे से अपमानित करना शांति भंग), 505 (सार्वजनिक दुर्व्यवहार के लिए जिम्मेदार) और आईटी अधिनियम के तहत एफआईआर दर्ज की गई है।
सूत्रों के मुताबिक उत्तर प्रदेश के मिर्जापुर जिले के चिलबिलिया ,भुइली निवासी अरविंद चतुर्वेदी ने निर्माताओं के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई है। उन्होंने आरोप लगाया है कि सीरीज में मिर्जापुर को गलत ढंग से प्रस्तुत किया गया है। जिससे की उस जगह की छवि खराब हुई है और धार्मिक, क्षेत्रीय व सामाजिक भावनाओं को ठेस पहुंचाया गया है।

वेब सीरीज मिर्जापुर के निर्माताओं पर 'छवि' खराब करने पर,आईपीसी की धाराओं के तहत  एफआइआर हुई दर्ज।

सोशल मिडिया पर भी बायकॉट की उठी थी मांग।

निर्माताओं के खिलाफ मिर्जापुर कोतवाली पुलिस स्टेशन में एफआईआर दर्ज हुई है। मिर्जापुर के एसपी अजय कुमार का कहना है कि शिकायतकर्ता अरविंद चतुर्वेदी का आरोप है कि सीरीज में गाली गलौज और अवैध संबंधों को दिखाया गया है। शिकायत के आधार पर निर्माताओं और ओटीटी प्लेटफॉर्म पर एफआईआर की गई। बता दें कि जब अक्तूबर में वेब सीरीज मिर्जापुर का दूसरा सीजन रिलीज हुआ था उस वक्त भी खूब विवाद हुआ था। सोशल मीडिया पर इसके बायकॉट की मांग भी उठी थी।

वेब सीरीज मिर्जापुर के निर्माताओं पर 'छवि' खराब करने पर,आईपीसी की धाराओं के तहत  एफआइआर हुई दर्ज।
khabar khalifa
editor

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *