दीदी आप हमें क्या डराती हो, खेला होबे से हम डर जाएंगे क्या,दीदी की मलेरिया और डेंगू से दोस्ती है:अमित शाह।

दीदी आप हमें क्या डराती हो, खेला होबे से हम डर जाएंगे क्या,दीदी की मलेरिया और डेंगू से दोस्ती है:अमित शाह।
khabar khalifa

झारग्राम में भाजपा नेता अमित शाह ने एक चुनावी रैली की तो वही ,संबोधित करते हुए ममता बनर्जी पर जमाकर निशाना साधा।सम्बोधन में गृह मंत्री अमित शाह ने कहा की जब तक दीदी है, तब तक मलेरिया और डेंगू नहीं जाएगा, दीदी की मलेरिया और डेंगू से दोस्ती है। आप दीदी को हटा दो, कमल फूल की सरकार डेढ़ साल के अंदर मलेरिया को यहां से समाप्त कर देगी।अरे दीदी आप हमें क्या डराती हो, खेला होबे से हम डर जाएंगे क्या। दीदी आपको मालूम नहीं है, बंगाल का छोटा बच्चा भी फुटबॉल खेलता है, आपके ‘खेला होबे’ से कोई नहीं डरता।

दीदी आप हमें क्या डराती हो, खेला होबे से हम डर जाएंगे क्या,दीदी की मलेरिया और डेंगू से दोस्ती है:अमित शाह।

किसानो की बच्चो के पढ़ने का खर्चा उठाएगी भाजपा।

आप जंगल में से वन उपज चुनकर लाते हैं, उसका अच्छा दाम नहीं मिलता। हमने तय किया है कि हम 49 वन उपजों को समर्थन मूल्य देकर अच्छा दाम देने की शुरुआत करेंगे।झारग्राम हरे भरे जंगल और लाल मिट्टी की भूमि है। आदिवासी भाइयों ने वर्षों से इस भूमि की संस्कृति संजो कर रखा है। मां, माटी मानुष का नारा देकर दीदी सत्ता में तो आई, लेकिन आपके लिए कुछ नहीं किया।
पश्चिम बंगाल में आदिवासियों को प्रमाण पत्र चाहिए होता है तो पटवारी को कट मनी देना होता है, हमने तय किया है कि आदिवासियों के लिए ऑनलाइन प्रमाण पत्र की व्यवस्था करके कटमनी को खत्म करेंगे।
लघु, सीमांत और भूमिहीन किसानों के बेटे और बेटियों के पढ़ने का खर्चा भाजपा की सरकार उठाएगी। जंगलमहल, झारग्राम और गरीब क्षेत्रों में 5 रुपये में अच्छा खाना देने की व्यवस्था भी भाजपा की सरकार करेगी।

दीदी आप हमें क्या डराती हो, खेला होबे से हम डर जाएंगे क्या,दीदी की मलेरिया और डेंगू से दोस्ती है:अमित शाह।
khabar khalifa
editor

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *