उत्तराखंड :मुख्यमंत्री तीरथ सिंह के फ़टी जींस के बयान पर जमकर हो रही आलोचना।

उत्तराखंड :मुख्यमंत्री तीरथ सिंह के फ़टी जींस के बयान पर जमकर हो रही आलोचना।
khabar khalifa

उत्तराखंड के मुख्यमंत्री तीरथ सिंह को अभी नया मुख्यमंत्री बने कुछ ही दिन हुए थे की अभी से उनको आलोचनाओं का सामना करना पड़। उनके द्वारा महिलाओ के पहनाओ पर दिए गया विवादित बयांन अब उनको भारी पड़ रहा है। दरअसल, उन्होंने बुधवार को महिलाओं के पहनावे को लेकर एक विवादित बयान दिया था, जिसके बाद सोशल मीडिया पर कई महिलाएं व राजनीतिक पार्टियां उन्हें घेर रही हैं। ।जिसके बाद शिवसेना सांसद प्रियंका चतुर्वेदी ने भी उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पर निशाना साधा है। उन्होंने ट्विटर पर लिखा, ‘देश की संस्कृति और संस्कार पर उन आदमियों से फर्क पड़ता है, जो महिलाओं और उनके कपड़ों को जज करते हैं। सोच बदलो मुख्यमंत्री जी, तभी देश बदलेगा।’

उत्तराखंड :मुख्यमंत्री तीरथ सिंह के फ़टी जींस के बयान पर जमकर हो रही आलोचना।

कांग्रेस सांसद महुआ मोइत्रा ने भी किया ट्वीट।

टीएमसी सांसद महुआ मोइत्रा ने अपने ट्विटर हैंडल से लिखा, ‘उत्तराखंड के मुख्यमंत्री कहते हैं कि जब नीचे देखा तो गम बूट थे और ऊपर देखा तो… एनजीओ चलाती हो और घुटने फटे दिखते हैं?’ सीएम साहब, जब आपको देखा तो ऊपर-नीचे-आगे-पीछे हमें सिर्फ बेशर्म-बेहूदा आदमी दिखता है।’ 

उत्तराखंड :मुख्यमंत्री तीरथ सिंह के फ़टी जींस के बयान पर जमकर हो रही आलोचना।

आखिर क्या रहा बयान।

दरअसल, तीरथ सिंह रावत ने बुधवार को महिलाओं के पहनावे को लेकर कहा था कि आजकल महिलाएं फटी जीन्स पहनकर चल रही हैं, क्या यह सब सही है? यह कैसे संस्कार हैं? बच्चों में कैसे संस्कार आते हैं, यह अभिभावकों पर निर्भर करता है। इस दौरान उन्होंने एक किस्सा भी सुनाया था ‘मैं जयपुर में एक कार्यक्रम में था और जब मैं जहाज में बैठा, तो मेरे बगल में एक बहन जी बैठी थीं। मैंने जब उनकी तरफ देखा तो नीचे गमबूट थे। जब और ऊपर देखा तो घुटने फटे थे। हाथ देखे तो कई कड़े थे। उनके साथ में दो बच्चे भी थे। उन्होंने कहा कि मैंने पूछा तो महिला ने बताया कि वह एनजीओ चलाती हैं। मैंने कहा कि समाज के बीच में घुटने फटे दिखते हैं, बच्चे साथ में हैं, क्या संस्कार है यह?’

उत्तराखंड :मुख्यमंत्री तीरथ सिंह के फ़टी जींस के बयान पर जमकर हो रही आलोचना।
khabar khalifa
editor

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *