आख़िर क्या हुआ था 15 जनवरी 1934 को ?जिसे सुनकर हर किसी की भी रुह काँप जाती है।

आख़िर क्या हुआ था 15 जनवरी 1934 को ?जिसे सुनकर हर  किसी की भी रुह काँप जाती है।
khabar khalifa

नयी दिल्ली : इतिहास के पन्नों पर 15 जनवरी की तारीख भारत और नेपाल में 1934 में आए भीषण भूकंप की दुखद घटना के साथ दर्ज है , भारत के बिहार राज्य और पड़ोसी नेपाल के सीमावर्ती इलाके में आए इस भूकंप की तीव्रता रिक्टर में पैमाने पर 8.4 आंकी गई जिसमें करीब 11हज़ार जानें गईं थीं और संपत्ति का भारी नुकसान हुआ। देश दुनिया के इतिहास में 15 जनवरी की तारीख पर दर्ज कुछ अन्य महत्त्वपूर्ण घटनाओं का सिलसिलेवार ब्यौरा भी हम आपको बतायेंगे
1956 : बहुजन समाज पार्टी की अध्यक्ष मायावती का जन्म।
1986 : इंडियन एयरलाइंस की एक वाणिज्यिक यात्री उड़ान को पहली बार केवल महिला चालक दल ने संचालित किया।
1998 : भारत के भूतपूर्व कार्यकारी प्रधानमंत्री गुलज़ारीलाल नन्दा का निधन।
2008 : खगोलविदों ने धरती से 25 करोड़ प्रकाश वर्ष दूर की आकाश गंगा पर जीवन के लिये जरूरी तत्व खोजने का दावा किया।
2009 : दादा साहेब फाल्के पुरस्कार से सम्मानित प्रसिद्ध फ़िल्म निर्माता तपन सिन्हा का निधन।
2010 : तीन घंटे से भी अधिक की अवधि वाला शताब्दी का सबसे लंबा सूर्य ग्रहण लगा, भारत में यह 11 बजकर 06 मिनट पर शुरू होकर 3 बजकर पाँच मिनट पर खत्म हुआ।
2013 : सीरिया की अलेप्पो यूनिवर्सिटी पर रॉकेट हमले में 83 लोगों की मौत, 150 लोग घायल।
2016 : पश्चिमी अफ्रीकी देश बुर्किना फासो में ऑगाडोगू के होटल में आतंकवादी हमले में 28 लोगों की मौत, 56 लोग घायल हुए थे।

khabar khalifa
editor

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *